जेल में ही सड़ जाएंगे स्व. राय के हत्यारेःमंत्री गिरिराज सिंह

 जेल में ही सड़ जाएंगे स्व. राय के हत्यारेःमंत्री गिरिराज सिंह


—पूर्व विधायक स्व. कृष्णानंद राय के 17 वें शहादत दिवस पर आयोजित हुई श्रद्धांजलि सभा

मुहम्मदाबाद/भांवरकोल (गाजीपुर)। पूर्व विधायक स्व. कृष्णानंद राय के 17 वें शहादत दिवस पर मंगलवार को शहीद पार्क मुहम्मदाबाद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस मौके पर स्व. विधायक सहित उनके साथ मारे गये सभी सात भाजपा कार्यकर्ताओं को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

शहादत दिवस समारोह के मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने मुहम्मदाबाद के पूर्व भाजपा विधायक स्व. कृष्णानंद राय और उनके साथ शहीद हुए पूर्व ब्लाक प्रमुख श्यामा शंकर राय, रमेश नारायण राय,अखिलेश राय ,शेषनाथ पटेल, मुन्ना यादव, निर्भय नारायण उपाध्याय के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि 29 नवंबर 2005 को माफियाओं के खिलाफ लड़ाई में शहीद विधायक स्व. कृष्णानंद राय के साथ शहीद हुए सातों साथियों को सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब सभी लोग एकजुट होकर राजनीतिक लड़ाई में इन्हें परास्त करें नहीं तो इनका मन बढ़ता रहेगा। उन्होंने कहा कि स्व राय सनातन धर्म के संवाहक थे। अन्याय के खिलाफ लड़ने के प्रतीक थे। वह तन से निर्भिक थे मन से निर्भिक थे, इसलिए कायरों ने उनके उपर हमला कर उन्हें हमसे छिन लिया। उन्होंने ने जम्मू-काश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने गाजीपुर में भी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ी और आज भी वे जम्मू काश्मीर में आतंकवाद को समाप्त करने में लगे है।

गाजीपुर की जनता ने भले ही अलका राय एवं मनोज सिन्हा को नहीं समझा, परंतु मनोज सिन्हा और मुख्यमंत्री योगी नाथ की वजह से आज माफिया जेल में भी अपने ऊपर खतरे की गुहार लगा रहे। स्व. राय के हत्यारे जेल में ही सड़ जायेंगे। पूर्व मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा कि मुहम्मदाबाद की धरती पर बहन विधायक अलका राय को भावुक होने की जरूरत नहीं है।

क्योंकि उत्तर प्रदेश में योगी के सरकार मे आतंकवाद एवं गुंडाराज का सफाया हो चुका है। उन्होंने भाजपा की उपलब्धियों का बखान करते हुए धारा 370, तीन तलाक एवं राम मंदिर के मुद्दे पर वादा पूरा करने का श्रय भाजपा सरकार को दिया। स्व. विधायक कृष्णानंद राय की पत्नी व पूर्व विधायक अलका राय ने कहा कि मुहम्मदाबाद धरती की सम्मानित जनता एवं बड़े-बुजुर्गों के आशीर्वाद से विधायक बनी थी तथा इनके दिए गए हौसलों से ही मैं आज आतंकवादियों से लड़ पा रही हूं।

उन्होंने आगे भी जनता से इसी तरह सहयोग बनाए रखने की अपील की। श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में विधायक सुशील सिंह, पूर्व एमएलसी बृजेश सिंह, मऊ के जिला पंचायत अध्यक्ष मनोज राय, जिला अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, पूर्व जिला अध्यक्ष विजय शंकर राय, वरिष्ठ भाजपा नेता वीरेंद्र राय, जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के पुत्र अभिनव राय, विजेंद्र राय, ब्लाक प्रमुख आनंद राय, राहुल राय, अवधेश राय, पीयूष राय, दिनेश अग्रवाल, शशांक राय,

मनोज राय, कृष्ण बिहारी राय, सतीश चंद्र राय गुड्डू, इफको निदेशक विजय शंकर राय, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष विजय शंकर राय, कृष्ण विहारी राय, बृजेन्द्र राय, जिला महामंत्री ओमप्रकाश राय, सुनील सिंह, विरेंद्र कुमार राय, दिनेश वर्मा, प्रमोद राय, संदीप वर्मा दीपू,ओमप्रकाश उपाध्याय, कृपाशंकर राय, कृष्णानंद राय, जयप्रकाश राय, व्यासमुनी राय, श्यामराज तिवारी, जिला पंचायत सदस्य अनिल कुमार राय, तेजबहादुर यादव, दिनेश अग्रवाल, शशांक शेखर राय, भाजपा संयोजक चुनाव आयोग विनोद शर्मा, राजेश राय बागी, रविन्द्र राय सहित जनपद के अलावा

वाराणसी, बक्सर चंदौली, मऊ एवं अन्य जनपदों के सैकड़ों लोग शामिल रहे। अध्यक्षता कैप्टन अनिरुद्ध राय एवं संचालन रामजी गिरी ने किया। उधर बसनिया में बने शहीद स्मारक पर क्षेत्रवासियों ने पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। सबसे पहले स्व. कृष्णानंद राय की पत्नी व पूर्व विधायक अलका राय एवं उनके पुत्र पीयूष राय अपने सहयोगियों के साथ पहुंचकर श्रद्धा-सुमन अर्पित किया। बाद में भाजपा नेता ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि आनंद राय मुन्ना, मुहम्मदाबाद ब्लाक प्रमुख अवधेश राय, सुधांशु राय, नीरज राय, दयाशंकर राय, हिमांशु राय, राकेश पांडेय, शिवजी राय, उत्कर्ष राय उर्फ गोलू सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

You cannot copy content of this page